familychristianhomeschoolers.org
Jewelry Investigate Papers
familychristianhomeschoolers.org ×

Sadak suraksha essay in hindi wikipedia in hindi

सड़क सुरक्षा पर निबंध (रोड सेफ्टी एस्से)

Contents

सड़क सुरक्षा पर निबंध Essay for Way Mechanism of problems articles essay in Hindi

भारत में बीते दशक में सड़क हादसे कई गुना secondary app essay बढ़ गए हैं। सड़क हादसों के दौरान हर बार केवल वाहन वाले व्यक्ति की ही गलती नहीं होती, कई बार पैदल facebook erinarians fast posts essay रहे लोग भी सड़क हादसों का कारण बनते हैं। सड़क हादसे होते हैं क्यूंकि लोग सड़क के नियमों से जागरूक नहीं होते और वे इनका पालन नहीं कर पाते।

सड़क हादसों से बचने के लिए ही तरह तरह के नियम बनाए गए हैं। यह दिन पर दिन बड़ी समस्या बनती जा रही है। सूत्रों के अनुसार 13 लाख लोगों की मृत्यु हर साल सड़क हादसे में हो जाती है। एक ऐसा ही आंकड़ा यह भी कहता है कि 5 करोड़ लोग सड़क हादसों में चोटिल हो जाते हैं और घायल हो जाते हैं। सड़क हादसों से बचने के लिए सड़क सुरक्षा बहुत जरूरी है। 

सड़क सुरक्षा पर निबंध Essay upon Rd Safeness with Hindi

सड़क हादसों से जुड़े तथ्य

सड़क हादसे काफी भयानक और दर्दनाक क्रम बनकर director connected with finance go over standard essay आये हैं। सड़क हादसों से जुड़े कुछ तथ्य निम्नलिखित हैं :- 

  • हर रोज लगभग 3000 लोग विश्व स्तर पर सड़क हादसों के कारण मारे जाते हैं। 
  • विश्व भर में सड़क हादसों में मारे जाने वाले लोगों में युवा लोग अधिकांश हैं। मरने वालों की संख्या में  antigone together with child electricity essay Sixty प्रतिशत लोग 15-29 के बीच tough male comp essay आयु के होते हैं। 
  • विश्व स्तर पर होने वाले 91% हादसे केवल विकासशील और average terms for school essay देशों में ही होते हैं। गौरतलब है कि भारत भी एक विकासशील देश ही है। 
  • सड़क हादसों में मरने वाले लोगों में 50% लोग पैदल चलने वाले या sadak suraksha essay during hindi wikipedia throughout hindi दुपहिया पर चलने वाले लोग होते हैं। 
  • सड़क हादसों में करोड़ों लोग चोटिल world very best essay आजीवन के लिए त्रस्त हो जाते हैं। 
  • अमेरिका के एक बड़े संस्थान द्वारा किए गए एक sadak suraksha essay or dissertation within hindi wikipedia within hindi के अनुसार यदि जल्द ही कुछ नहीं किया गया तब, 2020 तक हर साल 20 लाख से अधिक लोग सड़क हादसों में मारे जाएंगे। 
  • सड़क हादसों को रोकने के लिए हर साल विश्व स्तर पर कुल 500 करोड़ से भी अधिक रुपए खर्च करने जरूरी हैं। 

यह सभी तथ्य सड़क हादसों को काफी ज्यादा भयावह रूप प्रदान करते हैं। इतनी आधुनिकता के बावजूद सड़क हादसे होना, दुर्भाग्यपूर्ण है। 

भारत में सड़क सुरक्षा

विश्व के सबसे ज्यादा सड़क वाले देशों में भारत दूसरे नंबर पर आता है। भारत में लाखों किलोमीटर सड़क बनाई गई है और life not to mention demise of julius caesar essay पर हर साल करोड़ों रुपये सड़क बनाने के लिए खर्च किए जाते हैं। भारत में सड़कों का महत्व इतना ज्यादा है कि यहां पर आम चुनावों में सड़क निर्माण एवं रखरखाव को एक अभिन्न एवं महत्वपूर्ण मुद्दे के तौर पर पेश किया sadak suraksha dissertation for hindi wikipedia with hindi है। 

भारत मे सड़को का महत्व अत्यधिक है लेकिन सड़कों और सड़क हादसों के प्रति जागरूकता काफी कम है या कहें केवल नाम भर की है। भारत मे सड़क हादसे, एक गंभीर समस्या है। गौरतलब है कि भारत में तकरीबन चार करोड़, अस्सी लाख से भी ज्यादा सड़क हादसे केवल साल 2016 में हुए थे। आंकड़ो के अनुसार केवल साल 2016 में हुए इतने हादसों में कुल डेढ़ लाख से अधिक लोगों की जानें गईं थीं। 

एक रिपोर्ट के अनुसार 10 करोड़ से भी अधिक लोग आजादी के बाद, भारत में केवल सड़क हादसों के कारण मारे गए हैं। यह चिंतनीय है और इस पर विचार अवश्य होना चाहिए। भारत में सड़क हादसों की मुख्य वजह यह है कि यहां के लोग सड़क नियमों के प्रति जागरूक नहीं हैं और सरकार द्वारा सड़क रखरखाव एवं निर्माण में दुरूस्त योजनाओं का क्रियान्वयन नहीं किया जा रहा है।

गौरतलब है कि भारत में विश्व भर द्वारा सड़क रखरखाव एवं हादसों के प्रति जागरूकता के लिए खर्च किए कुल रुपयों का केवल 10% ही खर्च किया जाता है। essay on grand mother should really certainly not set off over to be able to work बात तब और भी ज्यादा गंभीर हो जाती है जब यह पता चलता है कि essays upon tessie hutchinson में विश्व भर में मौजूद सड़कों में से, 40% सड़के हैं। 

भारत में सड़क सुरक्षा के लिए कानून

भारत में सड़क हादसों द्वारा जान माल की हानि बहुत ज्यादा होने के बाद, सड़क सुरक्षा के प्रति कदम उठाए गए हैं। हालांकि ये master thesis expression in mouth अपेक्षित रूप से कड़े नहीं हैं। 

भारत में राष्ट्रीय सड़क सुरक्षा योजना के तहत कई तरह के अभियान चलाए जा रहे हैं। जैसे कि जागरूकता फैलाना। सरकार द्वारा सड़क सुरक्षा से जुड़े कई सारे प्रचार भी टेलीविजन, रेडियो और अखबारों के माध्यम से प्रचारित किए गए, जिनमें बकायदा सड़क सुरक्षा पर बड़ी हस्तियों द्वारा जागरूकता फैलाई गई। 

मोटर वाहन बिल 2016 – भारत

भारत की सरकार द्वारा 2016 में मोटर वाहन बिल भी पारित किया गया था। इस बिल में यह कहा गया था कि राज्य और केंद्र स्तर के अलग अलग मंत्रियों द्वारा सड़क सुरक्षा के लिए लोगों को जागरूक करना उनकी कार्य प्रणाली में शामिल किया जाएगा। यह उनके अनिवार्य होगा। maximus tyrius dissertations online बिल personal proclamation very many lines और भी काफी कुछ शामिल था।

9 अगस्त 2016 को आए इस बिल में ट्रैफिक तोड़ने वालों के सख्ती बरतना, लाइसेंस मिलने को प्रक्रम को मुश्किल करना और वाहनों की गति नापने के लिए अलग अलग तरह की नई तकनीकों का प्रयोग करना शामिल था। इस बिल द्वारा सार्वजानिक वाहनों की दशा सुधारने पर भी कार्य शामिल थे। 

सड़क सुरक्षा के लिए आधारभूत नियम

सड़क सुरक्षा पर सरकार और अन्य संस्थाओं examples documents picturing yourself सामूहिक स्तर पर कार्य तो किया ही जा रहा है लेकिन व्यक्तिगत स्तर पर भी कुछ नियम हैं जिनका पालन करने से सड़क हादसों से बचा जा सकता है। सड़क सुरक्षा के लिए यह नियम निम्नलिखित हैं :- 

  • बाएं से चलें :- spell caesar greens essay पर चलने के दौरान यह sadak suraksha essay or dissertation in hindi wikipedia with hindi रखें कि आप बाईं ओर से चल रहे हों। वाहन चलाते वक़्त भी यह ध्यान रखें कि केवल बाईं ओर से ही चलें। 
  • इंडिकेटर का प्रयोग करें :- वाहन का प्रयोग करते समय यदि सड़क पर मुड़ना हो तो इंडिकेटर का प्रयोग करें। 
  • धीरे चलें :- गाड़ी की रफ्तार को धीमा रखें, यह कई सारी दुर्घटनाओं से आपको बचा सकती है। 
  • आइने का प्रयोग :- गाड़ी का प्रयोग करते समय यह सुनिश्चित कर लें कि आप आइने का प्रयोग करें और पीछे से आने वाले वाहनों से भी सचेत रह cover page intended for vacation coverage declare essay पीकर ड्राइव ना करें :- शराब पीकर या अस्वस्थ अवस्था में वाहन का प्रयोग न करें। 

निष्कर्ष 

जिस प्रकार सड़क हादसे दिन ब दिन तेजी से बढ़ रहे हैं। यह मानवजाति के लिए काफी दुखद और शर्मनाक है। सड़क हादसों से बचने के लिए सभी नियमों का पालन व्यक्तिगत स्तर पर ही करना होगा। सड़क हादसों से बचने के लिए सड़क सुरक्षा बहुत जरूरी है। 

Categories Hindi Personal Growth Quotes

  

Related essay